सावधान! Indian Railways ने नहीं निकाली 5000 वैकेंसी, फेक नोटिस हो रहा है सर्कुलेट

39

[ad_1]

Indian Railways Fake Notice: रेलवे मिनिस्ट्री ने ट्विटर के माध्यम से उस रेलवे रिक्रूटमेंट नोटिस का खंडन किया है जिसमें 5000 वैकेंसी निकलने की बात कही गयी है. मिनिस्ट्री ऑफ रेलवेज ने कहा है कि उनके विभाग की तरफ से ऐसा कोई नोटिस जारी नहीं किया गया है. यह एक फेक नोटिस है जिससे सावधान रहें. यह नोटिस एक जाली संस्था ने इंडियन रेलवेज के नाम से निकाला है. रेलवे ने अपनी सफाई में कहा कि एक प्राइवेट ऐजेंसी ने न्यूज पेपर में जो ऐड दिया है, जिसके अंतर्गत रेलवे के 8 विभिन्न विभागों में 5000 पदों पर आवेदन आमंत्रित किए गए हैं, झूठा है. भारतीय रेलवे ने ऐसी कोई सूचना जारी नहीं की है. इस जाली एजेंसी ने इंडियन रेलवे के नाम पर एक काफी प्रतिष्ठित अखबार में विज्ञापन छपवाया था.

रेलवे नहीं करती प्राइवेट एजेंसी को हायर –

भारतीय रेलवे ने अपनी सफाई में आगे कहा कि इंडियन रेलवे कभी भी रिक्रूटमेंट का कार्य किसी प्राइवेट एजेंसी को नहीं देती. रेलवे के जो भी रिक्रूटमेंट होते हैं, उन्हें इंडियन रेलवे खुद मैनेज करती है और अपने नाम से ही उनके विज्ञापन छपवाती है. भारतीय रेलवे के नाम पर कोई प्राइवेट कंपनी लोगों को हायर नहीं कर सकती. ये अथॉरिटी भारतीय रेलवे ने किसी को नहीं दी. कैंडिडेट्स से भी इस बाबत अनुरोध है कि किसी भी सरकारी संस्थान का नौकरी का विज्ञापन देखकर झांसे में न आएं. सरकारी नौकरियों के प्रति युवाओं का मोह देखकर ही ऐसी कंपनियां उनका गलत फायदा उठा लेती हैं. किसी भी विज्ञापन के ऐवज में रिस्पांस करने से पहले उसके बारे में ठीक से पता कर लें उसके बाद ही आवेदन करें. इस कंपनी के खिलाफ रेलवे ने पता करना शुरू कर दिया है और जल्द ही इनके खिलाफ सख्त कार्यवाही होगी.

IAS Success Story: छोटे से गांव से IAS ऑफिसर तक का सफर, पढ़िये आशुतोष को कैसे मिली सफलता  

IAS Success Story: केवल 22 साल की उम्र में पहले ही अटेम्पट में वैभव ने पास की UPSC परीक्षा, क्या रहा उनका सक्सेस मंत्र? 

[ad_2]

Source link

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here